संसद पर भारी पड़ी सत्ता और विपक्ष की जिद
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

संसद का शीतकालीन सत्र और नोटबंदी

संसद के शीतकालीन सत्र को सत्ता और विपक्ष दोनों ने ही नाक का सवाल बना कर चलने नहीं दिया.

दोनों पक्षों का अड़ियल रुख़ देखने को मिला. इधर नोटबंदी पर मोदी ने पार्टी की बैठक बुलाई थी जिसमें उन्होंने इसके लिए पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को ज़िम्मेदार ठहराया था.

लेकिन राजनीतिक विश्लेषक आलोक मेहता मानते हैं कि ये सही है कि इंदिरा ने नोटबंदी के प्रस्ताव को नहीं माना था इसे लेकर मोदी की तरफ से आरोप लगाना किसी भी लिहाज़ से ठीक नहीं है.