यादों में किशोरी अमोनकर
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

सुर की पक्की लेकिन गुस्से से भरी किशोरी अमोनकर

जानीमानी शास्त्रीय संगीत गायिका किशोरी अमोनकर का सोमवार रात को निधन हो गया. वे 84 वर्ष की थीं.

ख्याल, ठुमरी और भजन को शास्त्रीय संगीत से सराबोर करने वाली किशोरी अमोनकर ने अपनी माता मोघूबाई कुर्दिकर से संगीत की शिक्षा हासिल की जो स्वयं एक चर्चित गायिका थीं.

भारत सरकार ने किशोरी अमोनकर को वर्ष 1987 में पद्म भूषण और साल 2002 में पद्म विभूषण से सम्मानित किया था.

सुनिए किशोरी अमोनकर से जुडी खट्टी मीठी यादें.

मिलते-जुलते मुद्दे