कश्मीर के संगीत में भी सेना की तैनाती का असर
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

कश्मीर के संगीत में भी सेना की तैनाती का असर

  • 10 अप्रैल 2017

भारत प्रशासित कश्मीर में कई दशकों से सेना की तैनाती का कला पर क्या असर हुआ है?

सार्वनिक कौर और तुषार माधव की फ़िल्म 'सोज़' इसी सवाल का जवाब ढूंढती है.

अपनी पहली फ़िल्म के लिए इन्हें सर्वश्रेष्ठ निर्देशक (बेस्ट डेब्यू डायरेक्टर- नॉन फ़िक्शन) का नैश्नल अवार्ड दिया गया है.

फ़िल्म में कश्मीर के वानवुन और लड़ीशां से लेकर आधुनिक दौर के हिपहॉप संगीत तक के तार बांधने की कोशिश की गई है.

फ़िल्मकार ख़ुद कश्मीर के निवासी नहीं हैं.

बीबीसी संवाददाता दिव्या आर्य से बातचीत में उन्होंने कहा कि वहां काम कर उन्होंने भी सेना की तैनाती के असर को क़रीब से महसूस किया जो उन्हें कश्मीरी कलाकारों के अनुभव के और क़रीब ले गया.