...ताकि डॉक्टरों को कागज़ पर नहीं लिखना पड़े
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

...डॉक्टर नहीं, यहां मशीन मर्ज़ बताती है

डॉक्टरों का ज़्यादातर वक़्त मरीज़ों को देखने में नहीं बल्कि कागज़ी कामकाज करने में लगता है. लेकिन अमरीकी स्टार्ट-अप कंपनी 'फॉरवर्ड' इसे बदलने की कोशिश कर रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)