'अफ़ग़ान महिलाओं का चैनल'
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

अफ़ग़ान महिलाओं का चैनल

इस चैनल का मुक़ाबला कई अन्य स्टेशनों से है और ज़रूरी नहीं कि टीआरपी की लड़ाई में उसकी जीत होगी ही. लेकिन ये चैनल अपने आप में मील का पत्थर है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)