बस में स्टिकर लगाने से बच रही है जान
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

बस में स्टिकर लगाने से बच रही है जान

  • 10 जून 2017

अमरीकी रिसर्चर को एक आइडिया आया. लोगों का व्यवहार बदलना सस्ता है. ज़ुशा! एक सेफ़्टी कैम्पेन है जो मटाटू में सफ़र करने वालों पर फोकस करता है ताकि वो ख़राब ड्राइविंग करने पर चालकों से तुरंत बात करें. उन्हें एक कैम्पेन स्टिकर का आइडिया आया जिसे बस में लगाना बेहद आसान है. और ये लोगों की ज़िंदगियां बचा रहा है.

बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.