बुज़ुर्गों की बेबस दुनिया
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

बुज़ुर्गों की बेबस दुनिया

भूमंडलीकरण और उपभोगतावाद का सबसे ज़्यादा असर इंसानी रिश्तों पर पड़ा है. इन्हीं बदलते हुए हालात का दंश झेल रहे हैं बुज़ुर्ग जिनको समाज में कई तरह की परेशानियों को झेलना पड़ रहा है.