'वो पहले ही दुखी हैं, वो किसी के लिए क्या ख़तरा बनेंगे'
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

'वो पहले ही दुखी हैं, वो किसी के लिए क्या ख़तरा बनेंगे'

दिल्ली के जंतर-मंतर में रोहिंग्या के समर्थन में हुए प्रदर्शन के दौरान प्रदर्शनकारियों ने भारत सरकार से सवाल किए कि जो पहले ही मारे काटे जा रहे हैं और अपनी जान बचा कर भाग रहे हैं वो किसी और देश के लिए क्या ख़तरा बनेंगे.

इसी सप्ताह केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा था कि रोहिंग्या देश की सुरक्षा के लिए ख़तरा है.

म्यांमार सरकार अल्पसंख्यक रोहिंग्या मुसलमानों को अपना नागरिक मानने से इंकार करती है और म्यांमार की सेना पर रोहिंग्या लोगों के गांवों पर हिंसक हमले करने का आरोप है.