प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

शादी के लिए गोत्र, जाति और संप्रदाय का बंधन...

बीबीसी इंडिया बोल की ताज़ा बहस में बात इस मुद्दे पर हुई कि गोत्र, जाति और संप्रदाय की सीमाओं को लांघकर की जा रही शादियों और संबंधों को समाज किस तरह से देखता है. कितनी सही या कितनी ग़लत हैं ऐसी कोशिशें... क्यों इन सीमाओं को मानें जिंदगी के शायद सबसे अहम फैसले का आधार...

सुनिए, ताज़ा कड़ी का ऑडियो