'रॉक एंड रोल जिहाद'

मीडिया प्लेयर

इस ऑडियो/वीडियो के लिए आपको फ़्लैश प्लेयर के नए संस्करण की ज़रुरत है

किसी और ऑडियो/वीडियो प्लेयर में चलाएँ

पाकिस्तान में जन्मे रॉक संगीत सितारे सलमान अहमद का कहना है कि वो अपने संगीत के माध्यम से मुस्लिम चरमपंथ के ख़िलाफ़ लड़ाई लड़ रहे हैं.

उनका कहना है कि जिन नौजवानों के लिए वो संगीत रचना करते हैं उन्ही को चरमपंथी भी लक्ष्य कर रहे हैं. लेकिन सलमान को विश्वास है कि कला और संस्कृति चरमपंथ से लड़ने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती है.

सलमान अमरीका में रहते हैं और अपनी आत्मकथा 'रॉक एंड रोल जिहाद' का प्रचार करने ब्रिटेन आए हैं. हिंदी सेवा की ममता गुप्ता ने बीबीसी के स्टूडियो में उनसे बात की.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.