अफ़्रीकी देश घाना की झलकियाँ

  • बीबीसी की टीम अफ़्रीकी देशों के दौरे पर है. टीम आइवरी कोस्ट से घाना जाने को तैयार. (तस्वीरें: बीबीसी संवाददाता राजेश जोशी)
  • पश्चिम अफ़्रीक़ा में इन दिनों सावन का सा मौसम है. रह रह कर होने वाली बारिश राहत का काम करती है.
  • अफ़्रीक़ा के इस हिस्से के लैंडस्केप का प्रमुख रंग हरा है. गदराई नदियाँ उपजाऊ ज़मीन को सींचती रहती हैं.
  • मौसम इंसानों के साथ साथ साँप-बिच्छुओं को भी भाता है.
  • घाना का पोर्ट केप शहर अपने विश्वविद्यालय और अच्छी शिक्षा के लिए जाना जाता है.
  • पिछली शताब्दियों में यहाँ यूरोप के औपनिवेशिक शासक इंसानों को ग़ुलाम बनाकर अटलांटिक पार ले जाते थे.
  • इतिहास का अन्याय अब भी लोग भूले नहीं हैं.
  • अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा जुलाई 2009 में पोर्ट केप आए थे. उन्होंने ग़ुलाम बनाए गए लोगों को याद किया.
  • घाना की राजधानी अकरा में अफ़्रीकी मूल के लोग हिंदू धर्म को मानने लगे हैं.
  • शहर के इस मंदिर में रोज़ाना शिवाभिषेक और आरती होती है. लोग हिंदी में भजन गाते हैं.
  • इन भक्तगणों में भारतीय मूल का एक भी नहीं है. सभी अफ़्रीक़ी हैं.
  • स्वामी घनानंद ने इन मंदिर की स्थापना 1975 में की थी.
  • पुरुषों के साथ साथ बच्चे और महिलाएँ भी भक्तों में शामिल हैं.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.