पाक के साध बेलो मंदिर में बाढ़

  • साध बेलो
    पाकिस्तान के सूबा सिंध के ज़िला सक्खर में सिंधु नदी के बीच एक टापू पर 1823 में स्थापित हिंदुओं का मंदिर साध बेलो है. (तस्वीरें-एजाज़ मेहर, बीबीसी, इस्लामाबाद)
  • साध बेलो
    बाढ़ के पानी से साध बेलो भी डूब गया और उसकी सुरक्षा दीवार को भी नुक़सान पहुंचा.
  • साध बेलो
    मंदिर के परिसर से ज़्यादातर पानी निकल चुका है लेकिन अभी भी कीचड़ और पानी नज़र आता है.
  • साध बेलो
    साध बेलो में पूजा-पाठ की जगह भी सैलाब के पानी से प्रभावित हुई है.
  • साध बेलो
    सैलाब के बाद मंदिर में अभी भी कीचड़ है लेकिन फिर भी हिंदू श्रद्धालु यहां आ रहे हैं.
  • साध बेलो
    मंदिर के पिछले हिस्से में पानी दीवार पर लगी इन प्रतिमाओं तक पहुंच गया था.
  • साध बेलो
    सरकार की तरफ़ से मुनासिब इंतज़ाम न होने पर यहां आने वाले श्रद्धालु चिंतित नज़र आते हैं.
  • साध बेलो
    यहां ख़ूबसूरत लॉन और फ़व्वारा था लेकिन अब ये खंडहर बन गया है.
  • साध बेलो
    साध बेलो वह जगह है जहां अंग्रेज़ों के विरुद्ध हिंसक आंदोलन चला और कुछ हिंदू युवकों ने ख़ैबर पख़तूनख़्वाह की तरफ़ हथियार ले जा रही गाड़ी पर विफल हमला किया.
  • साध बेलो
    साध बेलो में रेल पर हमला करने वाले हेमू कालाणी के नाम पर भारत में कुछ शैक्षणिक संस्थान भी हैं.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.