धूम्रपान प्रेमी चिम्पांज़ी की मौत

मीडिया प्लेयर

इस ऑडियो/वीडियो के लिए आपको फ़्लैश प्लेयर के नए संस्करण की ज़रुरत है

किसी और ऑडियो/वीडियो प्लेयर में चलाएँ

सिगरेट पीने के लिए प्रसिद्ध दक्षिण अफ़्रीका के एक चिम्पांज़ी की 52 वर्ष की उम्र में मौत हो गई है.

चार्ली नामक इस चिम्पांज़ी को ब्लोमफ़ोन्टेन के चिड़ियाघर में वर्षों पहले धूम्रपान की लत लगी थी, जब कुछ दर्शकों ने उसके सामने जलती सिगरेट फेंकी.

चिड़ियाघर के कर्मचारियों ने चार्ली से मनुष्यों की बुरी लत धूम्रपान छुड़वाने की काफ़ी कोशिश की, लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिल पाई.

चार्ली बहुत दिनों से बीमार था और उसे तरह-तरह की दवाइयाँ नियमित रूप से दी जा रही थीं. पिछले कई महीनों से उसका जानवरों के डॉक्टरों के यहाँ आना-जाना लगा ही रहता था.

डॉक्टर पोस्टमॉर्टम के ज़रिए उसकी मौत के कारणों का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं.

हालाँकि चिड़ियाघर के प्रवक्ता उन्डिले खेदामा को नहीं लगता कि चार्ली धूम्रपान की लत के कारण मरा होगा, क्योंकि वह चिम्पांज़ियों की औसत उम्र से 10 वर्ष ज़्यादा ज़िंदा रहा.

खेदामा की तुरंत की चिंता अब चिड़ियाघर की मादा चिम्पांज़ी जूडी का सहयोगी ढूंढने की है, जो कि चार्ली के जाने के बाद से उदासी में डूबी हुई है.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.