चरमपंथ के डर से ग़ायब हुए पर्यटक

 गुरुवार, 13 अक्तूबर, 2011 को 13:49 IST तक के समाचार

मीडिया प्लेयर

चरमपंथी हिंसा और तालिबान के ख़तरे के साये में पेशावर के पास चारसद्दा में काबुल नदी के किनारे मशहूर पिकनिक स्पॉट में बहुत कम पर्यटक पहुंच रहे हैं. एक समय ये जगह सारे ख़ैबर पख़्तूनख़्वाह प्रांत में मछलियों के व्यंजन के लिए मशहूर थी.

इस ऑडियो/वीडियो के लिए आपको फ़्लैश प्लेयर के नए संस्करण की ज़रुरत है

वैकल्पिक मीडिया प्लेयर में सुनें/देखें

चरमपंथी हिंसा और तालिबान के ख़तरे के साये में पेशावर के पास चारसद्दा में काबुल नदी के किनारे मशहूर पिकनिक स्पॉट में बहुत कम पर्यटक पहुंच रहे हैं. एक समय ये जगह सारे ख़ैबर पख़्तूनख़्वाह प्रांत में मछलियों के व्यंजन के लिए मशहूर थी.

Videos and Photos

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.