प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

'ख़ौफ़नाक हैं साक्षरता से जुड़े आँकड़े'

अंतरराष्ट्रीय संस्था वर्ल्ड लिटरेसी फाउंडेशन की रिपोर्ट के अनुसार निरक्षरता के कारण भारतीय अर्थव्यस्था को हर साल 53 अरब डॉलर (यानी क़रीब 2650 अरब रुपए) से ज्यादा का नुक़सान हो रहा है.

रिपोर्ट में कहा गया है कि इसकी वजह से वैश्विक अर्थव्यवस्था को लगभग 12 खरब डॉलर का नुक़सान हो रहा है.

बीबीसी संवाददाता मुकेश शर्मा ने शिक्षाविद् डॉक्टर अनिल सदगोपाल से संपर्क करके पूछा कि भारत में निरक्षरता से जोड़कर इसे कैसे देखा जाना चाहिए-