प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

बिहार में पीड़ित हैं आरटीआई कार्यकर्ता

बिहार के मुख्यमंत्री नीतिश कुमार तारीफ की जाती है क्यों कि उन्होंने बिहार प्रशासन में पारदर्शिता को बढ़ावा दिया. बिहार अपने आरटीआई 'जानकारी कॉल सेंटर' के कारण सकारात्मक चर्चाओं में भी रहा. 'जानकारी कॉल सेंटर' का उद्देश्य है टेलीफोन पर लोगों से सवाल लेकर उन्हें सम्बंधित विभागों तक पहुँचाना और माँगी गई सूचनाएँ उपलब्ध कराने में सहयोग करना.लेकिन वास्तव में हो क्या रहा है, इसका चौंकाने वाला बेबाक चित्रण ख़ुद उस व्यक्ति ने मणिकांत ठाकुर के सामने किया किया, जिससे टेलीफोन पर संपर्क कर के मुख्यमंत्री ने इस कॉल सेंटर का उदघाटन किया था. ठाकुर ने बात की आरटीआई कार्यकर्ता वीरेंद्र महतो से.