प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

जब मिले भारत पाकिस्तान के नौनिहाल

आमतौर पर किसी भी राजनीतिक सामाजिक मुद्दे पर वयस्कों के विचार को दुनियाभर में महत्व दिया जाता है लेकिन अपने आसपास घट रही घटनाओं के प्रति बच्चे भी संवेदनशील होते हैं.

बीबीसी ने इस सच्चाई को महसूस किया और दुनिया के कई देशों के बच्चों को एक मंच दिया ताकि वो अपनी बात साझा कर सकें.

बीबीसी की इस पहल के तहत ही लखनऊ के सिटी मॉन्टेसरी स्कूल के बच्चों की बात हुई इस्लामाबाद के फ्रोबेल्स इंटरनेशनल स्कूल के बच्चों से जिसे बीबीसी के लखनऊ संवाददाता रामदत्त त्रिपाठी ने मॉडरेट किया.