मोइनुद्दीन चिश्ती के उर्स पर अजमेर में रौनक

 मंगलवार, 22 मई, 2012 को 13:48 IST तक के समाचार
  • सूफी संत मोइनुद्दीन चिश्ती की पुण्यतिथी के मौके पर अजमेर में उर्स का उत्सव मनाया जा रहा है.
  • सूफी संत मोइनुद्दीन चिश्ती का जन्म ईरान में हुआ था, लेकिन उन्हें राजस्थान के अजमेर में दफनाया गया था. उनकी दरगाह पर हर साल उनकी पुण्यतिथि पर उत्सव का माहौल देखने को मिलता है.
  • उर्स के उत्सव में भाग लेने के लिए भारत से ही नहीं, बल्कि दूसरे देशों के लोग भी आते हैं.
  • 65 वर्षीय काले बाबा इस उर्स में भाग लेने के लिए दिल्ली से पैदल आए हैं. इन्हें ये सफर तय करने में पूरे 13 दिन लगे. जुलूस के दौरान इन्होंने कई हैरतंगेज़ करतब दिखाए.
  • उर्स के दौरान दरगाह के मुख्य दरवाज़े पर जूते-चप्पलों के अंबार को देखकर अंदाज़ा लगाया जा सकता है कि यहां हज़ारों लोग आते हैं.
  • दरगाह के बाहर माथा टेकते हुए कुछ सूफी श्रद्धालु.
  • सूफी फलसफे में मग्न श्रद्धालु दरगाह की ओर कदम बढ़ाते हुए.
  • दरगाह के बाहर प्रसाद के लिए हाथ फैलाते हुए श्रद्धालु.
  • एक सूफी श्रद्धालु मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह पर दुआ मांगता हुआ.

Videos and Photos

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.