प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

दक्षिण अफ्रीका में गांधी जी का घर बना म्युज़ियम

दक्षिण अफ्रीका में जोहानस्बर्ग के उपनगरीय इलाके में बसा ये घर सत्याग्रह हाउस कहलाता है.

1908-1910 तक महात्मा गांधी इसी घर में रहा करते थे.

(ये घर जो अब एक म्युज़ियम और गेस्टहाउस के रुप में स्थापित है, इसे एक नामी वास्तुकार हरमन कालेनबैक ने बनाया था. जो बाद में महात्मा गांधी के मित्र बने और उनके साथ इसी घर में दो साल तक रहे.)

इसी घर में अब एक और मशहूर वास्तुकार रहते हैं जिनका नाम ऐलन हिपमैन है. ऐलन हिपमैन हरमन कालेनबाख के भतीजे हैं और दोनों के चेहरों में काफी समानता है.

नस्लभेद के खिलाफ लड़ाई लड़ते हुए हरमन कालेनबाख गांधी जी के आदर्शों से काफी प्रभावित हुए और दोनों साथ रहने लगे.

(साथ रहने के दौरान गांधी जी को हरमन कालेबाख का पकाया खाना पसंद नहीं आता था, एक दिन उन्होंने कालेनबाख से कहा कि तुम सफाई करो, मैं खाना पकाउंगा...इस तरह गांधी घर के रसोईया बन गए.)

इस घर गांधी और कालेनबाख सालों साथ रहे और दोनों बाद में एक दूसरे से पत्रों के ज़रिए संपर्क में भी बने रहे. जिसकी नीलामी सदबीस नाम की संस्था ने रोकी दी है.