गुरुद्वारे पर हमले में सात की मौत- तस्वीरों में

 सोमवार, 6 अगस्त, 2012 को 08:03 IST तक के समाचार
  • अमरीका के विस्कॉन्सिन राज्य के एक गुरुद्वारे में एक हमलावर की गोलीबारी में सात लोगों की मौत हो गई है.

    .

    प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक स्थानीय समयानुसार सुबह करीब दस बजे जब ये हमला हुआ तो अफरातफरी मच गई.

    .

    प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक कुछ महिलाएं और बच्चे अपनी जान बचाने के लिए अलमारियों में छिप गए.

    .

    चार लोग गुरुद्वारे के अंदर और हमलावर समेत तीन लोग बाहर मारे गए.

  • पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि हमलावर ने पहले एक पुलिस अधिकारी को घेरकर कई गोलियां चलाईं.

    .

    लेकिन कुछ ही देर में एक दूसरे पुलिस अधिकारी ने हमलावर पर जवाबी फायरिंग की.

    .

    अधिकारियों के मुताबिक हमलावर मारा गया है.

    .

    प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक गुरुद्वारे पर हमला एक से ज़्यादा बंदूकधारी ने किया था लेकिन पुलिस का मानना है कि वहां एक ही हमलावर मौजूद था.

  • गोलियों से घायल हुए पुलिस अधिकारी समेत दो अन्य लोग भी इस हमले में चोटिल हुए और उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है.

    .

    स्थानीय समाचार चैनलों के मुताबिक हमलावर के घर का पता मिल गया है और पुलिस अपनी टुकड़ी लेकर वहां पहुंच गई है.

    .

    ये जगह गुरुद्वारे से करीब चार किलोमीटर दूरी पर है.

    .

    एक बम-निरोधक दस्ता भी वहां भेजा गया है और आसपास की इमारतों को खाली करा दिया गया है.

  • अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने गोलीबारी की इस घटना पर शोक जताया है.

    .

    व्हाइट हाउस की ओर से जारी किए गए उनके बयान में उन्होंने कहा है, “मारे गए लोगों के परिजनों और दोस्तों का शोक हम समझते हैं.”

    .

    बयान में कहा गया है कि, “पूजा के स्थान पर हुए इस हमले पर दुख व्यक्त करते हुए हम सिख समुदाय का अमरीका को योगदान याद करना चाहेंगे, ये समुदाय अमरीकी परिवार का ही हिस्सा है.”

    .

    अमरीका को भारत की राजदूत, निरुपमा राव ने सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट ट्विटर पर लिखा है कि, “अमरीका के उप-राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन ब्रेनन ने मुझसे बात की और अमरीकी राष्ट्रपति ओबामा की ओर से शोक व्यक्त किया.”

  • एक पत्रकार वार्ता में पुलिस प्रमुख जॉन एडवर्ड्स ने कहा कि वे इस हमले को एक “आंतरिक आतंकवादी किस्म की घटना” मान रहे हैं और इसकी तहकीकात अब फेडरल ब्यूरो एजंसी यानि एफबीआई को दे दी जाएगी.

    .

    उन्होंने कहा कि वो हमलावर के बारे में कोई जानकारी सार्वजनिक नहीं कर सकते.

    .

    हालांकि स्थानीय मीडिया हमलावर को गोरे रंग का एक पुरुष बता रहे हैं.

    .

    एफबीआई की ओर से जारी एक बयान में भी कोई नए सुराग की चर्चा नहीं है.

    .

    एफबीआई के विशेष एजंट ने कहा, “एफबीआई स्थानीय पुलिस के साथ मिलकर तहकीकात कर रही है, अभी तक इस घटना का कोई मक़सद नहीं सामने आया है लेकिन हम इसके ‘आतंकवाद की आंतरिक घटना’ होने की संभावना की पड़ताल कर रहे हैं”

  • इस गुरुद्वारे के अध्यक्ष को भी गोली लगी है और अस्पताल में उनका ऑपरेशन जारी है.

    .

    उनके बेटे अमरदीप कलेका ने गुरुद्वारे के बाहर मीडिया से बात करते हुए कहा, “लगता है कि यह हमला बहुत सुयोजित ढंग से किया गया है. मैंने अपने पिता को फ़ोन किया तो गुरुद्वारे में मौजूद एक अन्य व्यक्ति ने फ़ोन उठाया और कहा कि यहां बहुत से लोगों को गोली लगी है और हमें कई एंबुलेंस चाहिए.”

  • एक अन्य व्यक्ति देवेन्दर नागरा ने एसोसिएटिड समाचार एजंसी को बताया कि उनकी बहन गुरुद्वारे की रसोई में छिप गई और बचने में कामयाब रही.

    .

    नागरा ने कहा, “हमने कभी नहीं सोचा था कि ऐसा हमारे समुदाय के साथ हो सकता है, हमने कभी किसी का बुरा नहीं किया.”

    .

    पिछले महीने एक बंदूकधारी ने कोलोराडो राज्य के एक सिनेमा हॉल में हमला कर 12 लोगों की हत्या कर दी थी.

  • ओक क्रीक के बावेल एवेन्यू पर स्थित यह गुरूद्वारा सन 1980 में बनाया गया था.

    .

    इस गुरुद्वारे में खासकर छुट्टियों के दिन सौ से अधिक लोग जमा होते हैं.

    .

    इसमें बच्चे भी शामिल होते हैं जो गुरुद्वारे में आयोजित पंजाबी और हिंदी की विशेष शिक्षा भी लेते हैं.

    .

    इस शहर की कुल आबादी करीब 32 हज़ार है.

  • एक स्थानीय अस्पताल, फ्रोएडर्ट में तीन घायलों को ले जाया गया है.

    .

    वहां काम कर रहे डॉक्टर ली बिब्लो ने बताया कि उन सभी की स्थिति नाज़ुक बनी हुई है.

    .

    डॉक्टर बिब्लो ने कहा, “एक घायल के पेट और सीने में गोली लगी है, एक के चेहरे पर गहरे घाव हैं और एक के गले में चोट आई है.”

Videos and Photos

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.