नेपाल का 'शांगरी ला'

 सोमवार, 20 अगस्त, 2012 को 07:28 IST तक के समाचार

नेपाल का 'शांगरी ला'

  • नेपाल के अपर मस्टंग इलाके की तस्वीरें
    पूर्व हिमालयन राज्य लो अब अपर मस्टंग के नाम से पहचाना जाता है. ये नेपाल का एक सुदूर इलाका है जो ज़्यादातर बाहरी दुनिया से अलग-थलग रहा है. लेकिन अब एक नई सड़क के बनने से ये क्षेत्र बदलाव के मोड़ पर है. (सभी तस्वीरें साभार टॉम वान केकनबर्घे / आलेख ओलिविया लांग)
  • नेपाल के अपर मस्टंग इलाके की तस्वीरें
    इस इलाके में पहुंचना आसान नहीं है और इसीलिए ये अब तक बाहरी दुनिया के प्रभाव से बचा हुआ था. इसकी पुरानी राजधानी लो मंथंग तक पहुंचने के लिए पहले जोमसोम शहर तक हवाई यात्रा करनी पड़ती है और फिर गर्मियों में ट्रक द्वारा छह घंटे का सफर आपको तिब्बती पठार ले जाता है.
  • नेपाल के अपर मस्टंग इलाके की तस्वीरें
    बारिश के मौसम में ट्रक पर सफ़र करने की जगह कई दिनों तक पैदल चलना पड़ता है.
  • नेपाल के अपर मस्टंग इलाके की तस्वीरें
    मध्यकाल में अपर मस्टंग एक स्वतंत्र राज्य था और अपनी भौगोलिक स्थिति की वजह से हिमालय और भारत के बीच व्यापार में इसका प्रभाव था. कई सदियों तक लो मंथंग इस राज्य की राजधानी रही और ये अपनी सफ़ेद इमारतों के लिए मशहूर थी जिन पर रंगबिरंगी बौद्ध मठों की पताकाएं लहराती थीं.
  • नेपाल के अपर मस्टंग इलाके की तस्वीरें
    ये उन इलाकों में से एक है जहां पारंपरिक तिब्बती संस्कृति बिना किसी बदलाव के बची हुई है. वर्ष 1992 तक ये इलाका पर्यटकों के लिए बंद था. उसके बाद नेपाल ने कोटे और प्रवेश परमिटों के ज़रिए यहां पर्यटन का प्रभाव सीमित करने की कोशिश की है. लेकिन हाल के सालों में पर्यटकों की संख्या बढ़ी है.
  • नेपाल के अपर मस्टंग इलाके की तस्वीरें
    यहां का वार्षिक तीजी समारोह पर्यटकों में बहुत लोकप्रिय है. ये 'चेज़िंग ऑफ़ डीमन्स' भी कहलाता है. तीन दिन के इस समारोह में लो मंथंग के लगभग 800 निवासी हिस्सा लेते हैं और इसमें संगीत और नृत्य होता है.
  • नेपाल के अपर मस्टंग इलाके की तस्वीरें
    तीजी समारोह में दोर्जे जोनो नाम के देवता की कहानी पर आधारित है जिसने अपने दानव पिता के खिलाफ लड़ाई की थी. आखिरकार अच्छाई की बुराई पर जीत होती है और दानव को राज्य से निकाल दिया जाता है.
  • नेपाल के अपर मस्टंग इलाके की तस्वीरें
    एक नवनिर्मित सड़क अगले एक-दो वर्षों में नेपाल के निचले इलाकों को लो मंथंग से जोड़ देगी. और तब इस इलाके में और भी ज़्यादा लोगों के आने की उम्मीद है.
  • नेपाल के अपर मस्टंग इलाके की तस्वीरें
    इस तस्वीर में 30-वर्षीय पसांग अपने भतीजे त्सेरिंग के साथ दिखाई दे रही हैं. ये लोग इलाके में पर्यटकों के आने को अच्छा मानते हैं. लेकिन कुछ लोगों का कहना है कि इस क्षेत्र को यहां आने के लिए नेपाल सरकार द्वारा इकट्ठा किए गए परमिट शुल्क का वाजिब हिस्सा नहीं मिलता और इन लोगों ने धमकी दी है कि ये यहां पर्यटकों के आने पर रोक लगा देंगे.
  • नेपाल के अपर मस्टंग इलाके की तस्वीरें
    इस इलाके में रहने वाले बहुत से लोगों का जीवन बहुत कठिन है. तस्वीर में दिख रहे दो छोटे लड़के अपने पिता के साथ नज़र आ रहे हैं. इन बच्चों की मां का इस साल की शुरुआत में प्रसव के बाद नवजात शिशु के साथ निधन हो गया था.
  • नेपाल के अपर मस्टंग इलाके की तस्वीरें
    ये लोग ढोकपा जाति के हैं जो खानाबदोश होते हैं. ये लोग अपनी मवेशी के लिए नए चारागाहों की तलाश में याक के ऊन से बने अपने तंबुओं के साथ साल में चार बार जगह बदलते हैं.

Videos and Photos

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.