वो जो कह गए 2012 में अलविदा

 सोमवार, 31 दिसंबर, 2012 को 17:54 IST तक के समाचार
  • 2012 में अपना अस्सीवां जन्मदिन मनाने वाले निर्माता-निर्देशक यश चोपड़ा 21 अक्तूबर को हमेशा के लिए अलविदा कह गए. उनकी मौत डेंगू के कारण हुई. इसी साल उनकी अंतिम फिल्म जब तक है जान भी रिलीज़ हुई.
  • हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के पहले सुपरस्टार कहे जाने वाले राजेश खन्ना की 18 जुलाई 2012 को मौत हो गई. उन्होंने 60 और 70 के दशक में फिल्मों में रोमांस को एक नई पहचान दी.
  • रुस्तम-ए-हिंद पुकारे जाने वाले पहलवान से अभिनेता बने दारा सिंह का 84 साल की उम्र में 12 जुलाई को निधन हुआ. उन्होंने 1968 में विश्व कुश्ती चैंपियनशिप भी जीती थी.
  • भारतीय शास्त्रीय संगीत को पश्चिम में पहचान दिलाने वाले सितार वादक पंडित रवि शंकर 2012 के आख़िरी महीने में दुनिया को अलविदा कह गए. बीटल्स ग्रुप के जॉर्ज हैरिसन ने उन्हें गॉडफादर ऑफ वर्ल्ड म्यूज़िक कहा था.
  • जाने माने हास्य कलाकार जसपाल भट्टी की 25 जुलई को सड़क दुर्घटना में मौत हो गई. अपने टीवी शो उल्टा पुल्टा और फ़्लॉप शो से उन्होंने लोगों के बीच अपना लोहा मनवाया.
  • जनता दल सरकार में प्रधानमंत्री रहे इंदर कुमार गुजराल 92 वर्ष की उम्र में चल बसे.वे अप्रैल 1997 से मार्च 1998 के दौरान प्रधानमंत्री थे. उन्होंने भारत के स्वतंत्रता-संग्राम में हिस्सा लिया था
  • शिव सेना प्रमुख बाल ठाकरे ने नंबवर में अंतिम सांस ली. कार्टूनिस्ट से राजनेता बने बाल ठाकरे काफी विवादित हस्ती रहे हैं.महाराष्ट्र की राजनीति और ख़ासकर मुंबई में उनका ख़ासा प्रभाव था.
  • हिंदी फिल्मों के वरिष्ठ कलाकार एके हंगल भी 26 अगस्त 2012 में सबसे विदा ले गए. नमक हराम, शोले, शौकीन, आइना, बावर्ची जैसे फिल्मों में उन्होंने चरित्र अभिनय किया. वे 98 साल के थे.
  • 2012 में कांग्रेस नेता विलासराव देखमुख, आरएसएस प्रमुख सुदर्शन, ब्रजेश मिश्रा, वीके कुरियन और कैप्टन लक्ष्मी सहगल जैसी कई हस्तियों का भी निधन हुआ.

Videos and Photos

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.