युद्ध, शांति की अपील और नवरोज़