प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

यहां अतिथि भगवान है या...?

दिसंबर में भारतीय राजधानी दिल्ली में एक लड़की के साथ गैंगरेप की चर्चा दुनिया भर की मीडिया में हुई जिसके बाद सवाल उठे कि भारत में महिलाएं आखिर सुरक्षित क्यों नहीं हैं.

यही सवाल एक बार फिर उठे रहे हैं. लेकिन इस बार भारतीय ही नहीं विदेशी महिलाओं के सुरक्षा को लेकर भी.

इसी साल तीन ऐसे मामले सामने आए जिनमें विदेशी महिलाओं को दुराचार का शिकार बनाया गया, जिसके बाद विभिन्न देशों ने अपने नागरिकों को चेतावनी जारी की कि वे भारत में अपनी सुरक्षा का खास ख्याल रखें.

आखिर क्यों सैलानियों को सुरक्षित रखने में नाकाम साबित हो रहा है भारत? बीबीसी हिंदी के टीवी कार्यक्रम की एक रिपोर्ट.