प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

बरक़रार है एचएमवी की विरासत

  • 10 अप्रैल 2013

दुनिया में संगीत जगत के जाने-माने नाम एचएमवी ने जब ब्रिटेन में अपना कारोबार समेटने की घोषणा की तो इतिहास का एक अध्याय जैसे बंद हो गया. मगर उस ख़बर से धक्का भारत में भी लोगों को लगा क्योंकि उसकी विरासत भारत से भी जुड़ी है.

1980 के दशक में भारत के आर पी गोयनका ग्रुप ने इस कंपनी के अधिकार ख़रीद लिए मगर एचएमवी के नाम से उसकी पहचान इस क़दर जुडी थी कि उसके बाद भी लोग इसे एचएमवी के नाम से ही पहचानते रहे. उसी विरासत को टटोलने कोलकाता पहुँचे हमारे संवाददाता मुकेश शर्मा-