प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

रजवाड़ों की बैठक से मुस्लिम लीग परेशान

15 अगस्त 1947 को भारत की आज़ादी से पहले क्या हो रहा था? बीबीसी हिंदी के लिए 1997 में मधुकर उपाध्याय ने 'पचास दिन पहले, पचास साल बाद' नाम से रिपोर्टें बनाई थीं जिसमें सिलसिलेवार ढंग से आज़ादी के पहले की घटनाओं का ज़िक्र था.

इस सीरीज में जानिए 20 जुलाई 1947 की घटनाओं के बारे में.

दो दिन होने वाली रजवाड़ों की बैठक को लेकर मुस्लिम लीग के नेता परेशान थे. उनका कहना था कि कांग्रेस इस मौके का फायदा उनको लुभाने के लिए कर सकती है. सिखों के सम्मेलन में मांग की गई की ननकाना साब को पूर्वी पंजाब में शामिल किया गया. रेडक्लिफ ने माउण्ट बेटेन को 12 अगस्त तक सीमा की रिपोर्ट देने की बात कही.