प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

माउण्ट बेटेन की रजवाड़ों के साथ सफल बैठक

  • 13 अगस्त 2013

15 अगस्त 1947 को भारत की आज़ादी से पहले क्या हो रहा था? बीबीसी हिंदी के लिए 1997 में मधुकर उपाध्याय ने 'पचास दिन पहले, पचास साल बाद' नाम से रिपोर्टें बनाई थीं जिसमें सिलसिलेवार ढंग से आज़ादी के पहले की घटनाओं का ज़िक्र था.

इस सीरीज में जानिए 25 जुलाई 1947 की घटनाओं के बारे में.

दिल्ली में रियासतों के शासकों का सम्मेलन हुआ, जिसमें माउण्ट बेटेन पहली और आखिरी बार भाषण दिया. बिना नोट्स के वे घंटो बोलते रहे. 565 में से ज़्यादातर रियासते भौगोलिक रुप से भारत के करीब हैं. वे अपने पड़ोसी से दूर नहीं जा सकते. माउण्ट बेटेन ने एटली को ख़बर भेजी कि रजवाड़ों के साथ बैठक सफल रही है.