प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

इंपीरियल होटल में सरदार पटेल ने दी पार्टी

15 अगस्त 1947 को भारत की आज़ादी से पहले क्या हो रहा था? बीबीसी हिंदी के लिए 1997 में मधुकर उपाध्याय ने 'पचास दिन पहले, पचास साल बाद' नाम से रिपोर्टें बनाई थीं जिसमें सिलसिलेवार ढंग से आज़ादी के पहले की घटनाओं का ज़िक्र था.

इस सीरीज में जानिए 27 जुलाई 1947 की प्रमुख घटनाओं के बारे में.

ननकाना साहब में सिख संगत के लिए प्रतिबंधों के बावजूद काफी लोग जमा हुए थे. भीड़ के अनियंत्रित होने पर पुलिस को गोली चलानी पड़ी. जिनकिंस ने वायसराय को लिखा कि वे सीमा आयोग की रिपोर्ट का इंतज़ार करने को तैयार नहीं है.वसरदार पटेल ने रियासतों के शासकों के सम्मान में पार्टी का आयोजन किया. हैदराबाद, औरंगाबाद, नागपुर, कानपुर औऱ चंद्रनगर में दंगे भड़क उठे.