प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

बीबीसी के ख़ज़ाने से: चंद्रशेखर

भारत की राजनीति में युवा तुर्क के नाम से विख्यात चंद्रशेखर भारत के आठवें प्रधानमंत्री थे.

विश्वनाथ प्रताप सिंह के बाद 1990 से 1991 तक चंद्रशेखर ने ही प्रधानमंत्री का पदभार सम्भाला था. वह आचार्य नरेंद्र देव के काफ़ी करीब माने जाते थे. चंद्रशेखर की कुशल भाषा शैली विपक्षी खेमे में भी काफी लोकप्रिय थी.

उन्होंने 'यंग इंडिया' नामक साप्ताहिक समाचार पत्र का सम्पादन-प्रकाशन किया.

1975 में आपातकाल की घोषणा के बाद जिन नेताओं को इंदिरा गांधी ने जेल भेजा, उनमें चंद्रशेखर भी थे. जेल प्रवास के दौरान चंद्रशेखर ने 'मेरी जेल डायरी' लिखी, जो उनके जेल अनुभवों की काहानी है.

उत्तर प्रदेश का बलिया ज़िला उनकी कर्मभूमि रही. चंद्रशेखर का झुकाव शुरु से ही समाजवाद की ओर था. चंद्रशेखर हमेशा वैचारिक और सामाजिक बदलाव की राजनीति पर ज़ोर देते रहे. आपात काल के बाद चंद्रशेखर जनता पार्टी के अध्यक्ष बन गए. 8 जुलाई, 2007 को चंद्रशेखर का निधन हो गया.

बीबीसी की वर्षांत प्रस्तुति में आज सुनिए चंद्रशेखर से बातचीत. बीबीसी हिंदी के विजय राना ने चंद्रशेखर से उस वक्त बात की थी जब वो जनता पार्टी के अध्यक्ष थे और भारत के प्रधानमंत्री राजीव गाँधी थे.