प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

मंगल की तस्वीरें हैं या कलाकृतियाँ?

नासा ने 11 साल पहले मंगल पर पानी का पता लगाने के इरादे से वहाँ दो रोवर्स यानी छोटे खोजी यान भेजे थे. स्पिरिट और ऑपोरच्युनिटी नाम के ये रोवर मंगर पर उतरे, घूमे-फिरे, और तस्वीरें खींचकर भेजते रहे जिनसे धरती पर बैठे वैज्ञानिकों को अंदाज़ा मिला कि लाल ग्रह के नाम से जाना जानेवाला ये ग्रह नज़दीक से कैसा दिखता है. इस अभियान की दसवीं वर्षगांठ पूरी होने पर वाशिंगटन में उनकी भेजी तस्वीरों की एक प्रदर्शनी लगाई गई है.