अफ़गान दुभाषिया
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

अफ़गान दुभाषियों का दर्द

अफ़ग़ानिस्तान से अंतरराष्ट्रीय सेना की वापसी के चलते उनकी मदद करने वाले हज़ारों अफ़गान दुभाषियों को भी सुरक्षित ठिकानों को छोड़ना पड़ रहा है. अमरीका की मदद करने की वजह से कई अफगान दुभाषिए तालिबान के निशाने पर हैं. हालांकि ऐसे दुभाषियों के लिए अमरीकी सरकार ने वीज़ा देने का प्रोग्राम शुरु किया है. लेकिन प्रक्रिया बेहद धीमी है. अमरीका पहुंचे ऐसे ही एक दुभाषिये से मिले बीबीसी संवाददाता ब्रजेश उपाध्याय.

बीबीसी हिंदी का ग्लोबल इंडिया कार्यक्रम आप ईटीवी नेटवर्क पर देख सकते हैं.

शुक्रवार

शाम साढ़े पाँच बजे – ईटीवी राजस्थान

रात आठ बजे – ईटीवी बिहार-झारखंड, ईटीवी उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड, ईटीवी मध्य प्रदेश-छत्तीसगढ़

शनिवार

रात आठ बजे –ईटीवी उर्दू

पुन: प्रसारण – रात साढ़े आठ बजे –ईटीवी राजस्थान

पुन: प्रसारण – रात साढ़े नौ बजे–ईटीवी बिहार-झारखंड, ईटीवी उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड, ईटीवी मध्य प्रदेश-छत्तीसगढ़

रविवार

पुन: प्रसारण – सुबह 11.00 बजे – ईटीवी के सभी हिंदी चैनल

रविवार – पुन: प्रसारण – सुबह 10.30 बजे – ईटीवी उर्दू