बीबीसी हिंदी, हिंदी समाचार, विदर्भ, क़तार के आख़िरी, bbc hindi, hindi news, last mile, vidarbha
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

कपास की खेती से ख़ुदक़ुशी तक

विदर्भ के किसान कर्ज़ लेकर कपास की खेती करते हैं. ऐसे में फ़सल बर्बाद होने के बाद उनके सामने ख़ुदक़ुशी के सिवा कोई रास्ता नहीं बचता. और उसके बाद उनकी विधवाओं को जीवन का नरक हो जाता है. क़तार के आख़िरी में विदर्भ की विधवाओं का हाल जानने पहुंचे बीबीसी संवादादाता ज़ुबैर अहमद.