दहेज
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

महिला और दहेज क़ानून

सर्वोच्च न्यायालय ने दहेज विरोधी क़ानून के दुरुपयोग पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा है कि ऐसे मामलों में पुलिस स्वत: ही अभियुक्त को गिरफ़्तार नहीं कर सकती.

दरअसल दहेज विरोधी कानून के अंतर्गत कथित प्रताड़ना का आरोप दर्ज होने के ठीक बाद पुलिस सीधे महिला के पति और परिवारवालों को गिरफ़्तार कर सकती थी लेकिन इस आदेश में पुलिस से कहा गया है कि पुलिस को गिरफ़्तारी से पहले खुद को कुछ मुद्दों पर संतुष्ट करना होगा.

लेकिन सर्वोच्च अदालत का ये कहना क्या उन महिलाओं के लिए चिंता का विषय नहीं है जिन्हें दहेज प्रथा के कारण प्रताड़ना का सामना करता है.

यही था आज के इंडिया बोल का विषय जिसमे शामिल हुए महिला कार्यकर्ता जगमति सांगवान और तबस्सुम और साथ में शोनी कपूर और सिद्धार्थ मुरारका जिनका कहना है कि वे इस आदेश से खुश हैं.