प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

ग्राउंड फ़्लोर के लिए तरस गईं ज़ोहरा

जाने माने रंगकर्मी और ज़ोहरा सहगल को बहुत क़रीब से जानने वाले एमके रैना का कहना है कि ज़ोहरा सहगल दिल्ली के मंदाकिणी स्थित एक डीडीए फ़्लैट की तीसरे मंज़िल पर रहतीं थीं और लाख कोशिशों के बावजूद उन्हें ग्राउंड फ़्लोर पर घर नहीं मिल सका. राज्य या केंद्र सरकार ने उनकी कोई मदद नहीं की.

सुनिए बीबीसी संवाददाता विनीत खरे से एमके रैना की बातचीत.