देखिए: मॉनसून से जुड़ी दिलचस्प तस्वीरें

मौनसून के प्रभाव कवर करने जाती बीबीसी टीम इमेज कॉपीरइट BBC World Service

जंगली जीव-जंतुओं पर मॉनसून के असर को देखने के लिए बीबीसी की टीम ने ऑस्ट्रेलिया के उत्तरी भागों और एशिया के कई जगहों का महीने भर दौरा किया.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

हर साल गर्मी के दौरान ऑस्ट्रेलिया के रॉपर नदी के किनारे तीन लाख लाल चमगादड़ आवास और पानी की तलाश में वापस लौट आते हैं. नदी में मगरमच्छ होने के कारण यहां पानी पीना जानलेवा हो सकता है.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

ऑस्ट्रेलिया में झालरदार गर्दन वाला यह गिरगिट गर्मी के मौसम में निष्क्रिय पड़ा रहता है उसे पर्याप्त अपने लिए खाना भी नहीं मिल पाता है लेकिन मॉनसून आते ही उसे खाने के लिए कीड़ों का भंडार मिल जाता है. मॉनसून के कम समय में ही उसे भरपूर खाना होता है और गर्मी आने से पहले सहवास के लिए जोड़ा ढूढ़ना होता है.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

इस मोर की तस्वीर भारत के कान्हा राष्ट्रीय उद्यान में ली गई है. एक स्थानीय का कहना है कि मोर की आवाज़ यह बताती है कि मॉनसून आने वाला है. वास्तव में मोर गर्मी के आख़िरी हफ़्ते में सहवास शुरू करता है ताकि उसके बच्चें मॉनसून की बारिश के दौरान हो सकें.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

हिंद महासागर के क्रिसमस आईलैंड पर चार करोड़ से ज़्यादा लाल केकड़े मॉनसून की बारिश शुरू होने के बाद एक साथ समुद्र की ओर अंडे देने के लिए बढ़ते हैं.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

भारत के मॉनसून जंगल बाघों के आख़िरी मज़बूत ठिकाने हैं. गर्मी के मौसम के दौरान ये घने जंगल उन्हें छिपकर चीतल और हिरण का शिकार करने का सुनहरा मौका देते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)