दिव्या सैन, महिला पहलवान
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

पुरुषों के खेल में एक लड़की की पटखनी

कुश्ती भारत के ग्रामीण क्षेत्रों में आज भी एक लोकप्रिय है, जो परम्परागत रूप से पुरुषों का खेल रहा है लेकिन पिछले कुछ सालों में लड़कियों की भी इसमें रुचि बढ़ी है...

ऐसी ही लड़कियों में से एक हैं 17 साल की दिव्या सैन. लेकिन उनकी ख़ासियत यह है कि दंगल में वह लड़कों को चुनौती देती हैं.

ऐसे प्रतियोगिताओं में दिव्या ने अब तक दर्जनों लड़कों को मात दी है और अब अखाड़े में लड़के बड़ी मुश्किल से उनके मुकाबले में उतरते हैं.

कुछ दिन पहले इटावा में एक लड़के से उसकी कुश्ती के लिए आठ मिनट का समय रखा गया था लेकिन दिव्या ने आठ सेकंड में ही बाजी मार ली.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)