उरुम्की के कम्युनिस्ट प्रमुख को हटाया

उरुम्की में सुरक्षा व्यवस्था
Image caption हाल के दिनों में उरुम्की में भारी सुरक्षा व्यवस्था रखी गई

चीन की सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने घोषणा की है कि उपद्रवग्रस्त पश्चिमी शहर

उरुम्ची में कम्युनिस्ट पार्टी के प्रमुख ली झी को पद से हटा दिया गया है.

शिन्हुआ ने कहा है कि उरुम्चीमें सबसे शक्तिशाली व्यक्ति को उसके पद से हटा दिया गया है हालाँकि शिन्हुआ ने तत्काल तौर पर यह नहीं बताया है कि ली जी को इस पद से क्यों हटाया गया है लेकिन हाल के दिनों में शहर में प्रदर्शन होते रहे हैं.

उरुम्ची शहर शिन्जियाँग प्रांत की राजधानी है जहाँ हाल के दिनों के दौरान हुए प्रदर्शनों और हिंसा में कम से कम पाँच लोग मारे गए हैं.

इन प्रदर्शनों से पहले आरोप लगाए गए थे कि वीगर मुसलमान पृथकतावादियों ने कुछ लोगों पर सुइयों के ज़रिए हमले किए थे.

बीते सप्ताह भी उरुम्की में सड़कों पर भारी सुरक्षा व्यवस्था देखी गई. वहाँ हान समुदाय के लोग बहुमत में हैं और उन्होंने कथित तौर पर मुसलमानों के सुइयों के ज़रिए किए गए हमलों के बाद प्रदर्शन किए थे.

उससे पहले जुलाई में उरुम्ची शहर में सांप्रदायिक दंगे हुए थे जिनमें लगभग 200 लोगों की मौत हुई थी.

ली झी ने इस सप्ताह के आरंभ में प्रदर्शनकारियों से शांति बनाए रखने की निजी तौर पर अपील की थी लेकिन अनेक प्रदर्शनकारियों ने ली झी से इस्तीफ़ा देने की माँग की थी.

ख़बरों में कहा गया है ली झी के स्थान पर झू हाईलुन को उरुम्की का कम्युनिस्ट प्रमुख बनाया जा रहा है. हाईलुन अभी तक शिन्जियाँग प्रांत की क़ानून और व्यवस्था मामलों की समिति के मुखिया हैं

अनेक लोगों ने कम्युनिस्ट पार्टी के क्षेत्रीय प्रमुख से भी इस्तीफ़ा देने की मांग की है, हालाँकि अभी वो अपने पद पर बने हुए हैं.

संबंधित समाचार