'आलोचना का आधार रंगभेद नहीं'

ओबामा
Image caption ओबामा रंगभेद की बात नहीं मानते

अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ये नहीं मानते कि उनकी नीतियों की आलोचना का आधार रंगभेद है.

व्हाइट हाउस ने अपने बयान में ये बातें कही हैं. हाल ही में अमरीका के पूर्व राष्ट्रपति जिमी कार्टर ने कहा था कि बराक ओबामा की स्वास्थ्य और ख़र्च योजनाओं के ख़िलाफ़ जो आवाज़ें उठ रही हैं, उनमें से ज़्यादातर नस्लभेद पर आधारित हैं.

जिमी कार्टर ने कहा था कि कई ये भी सोच रखते हैं कि एक अफ़्रीकी अमरीकी को राष्ट्रपति नहीं बनना चाहिए.

अमरीकी संसद में भी बराक ओबामा के ख़िलाफ़ लोगों ने अपना ग़ुस्सा निकाला और इसी कारण रिपब्लिकन सांसद जो विल्सन को डाँट भी खानी पड़ी.

इनकार

सांसद जो विल्सन के बेटे ने इससे इनकार किया है कि उन्होंने ग़ुस्से में किसी तरह की नस्लभेदी टिप्पणी की थी.

दूसरी ओर कुछ कंजर्वेटिव सांसदों ने आरोप लगाया है कि राष्ट्रपति के समर्थक 'नस्लभेदी कार्ड' खेल रहे हैं.

अब व्हाइट हाउस के प्रवक्ता रॉबर्ट गिब्स ने कहा है कि राष्ट्रपति ओबामा ये बात नहीं मानते कि रंगभेद के कारण ही उनकी आलोचना हो रही है.

गिब्स ने कहा, "हम ये समझते हैं कि हमने जो फ़ैसले किए हैं और कुछ असाधारण क़दम उठाए हैं, उनमें से कुछ पर लोग असहमत हैं."

हाल के दिनों में राष्ट्रपति बराक ओबामा को लोगों के ग़ुस्से का सामना करना पड़ा है. कुछ लोगों ने न सिर्फ़ राष्ट्रपति की नीतियों का विरोध किया है बल्कि उन पर अन्याय करने का भी आरोप लगाया है.

इन मामलों पर जिमी कार्टर का कहना है कि ये सब चीज़ें स्वास्थ सुधारों पर गंभीर बहस का नतीजा नहीं है. बल्कि इसके गहरे अर्थ हैं.

जो विल्सन की ओबामा पर नाराज़गी के बारे में जिमी कार्टर ने कहा है कि ओबामा न सिर्फ़ देश के प्रमुख हैं बल्कि सरकार के भी प्रमुख हैं, उनके साथ सम्मानजनक व्यवहार होना चाहिए.

मंगलवार को संसद में जो विल्सन को फटकार लगी थी. विल्सन ने संसद में चिल्लाकर ओबामा को 'झूठा' कहा था.

लेकिन जो विल्सन के बड़े बेटे एलेन ने इससे इनकार किया है कि उनके पिता की नाराज़गी में रंगभेद का असर था.

इस मामले में जो विल्सन ने ओबामा से माफ़ी मांगी है और उम्मीद भी जताई है कि ये इस मामले को ख़त्म करने के लिए काफ़ी होगा.

उन्होंने बताया कि राष्ट्रपति बराक ओबामा ने खुले दिल से उनकी माफ़ी स्वीकार कर ली है और अब यह मुद्दा ख़त्म हो गया है.

संबंधित समाचार