गुलाम थीं मिशेल ओबामा की पूर्वज

मिशेल ओबामा

अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा की पत्नी मिशेल ओबामा के पूर्वजों पर किए गए शोध से पता चला है कि कुछ पीढ़ियों पहले उनकी पूर्वज गुलामी का जीवन जी रही थीं.

उनकी एक पूर्वज दादी को छह साल की उम्र में गुलाम बना दिया गया था.

जीन अध्ययन करने वाली विज्ञानी मेगन मोलनयेक के अनुसार काग़ज़ों में इस लड़की का विवरण केवल मेलवीनिया नाम की एक नीग्रो लड़की के तौर पर दर्ज है.

मिशेल ओबामा की यह पूर्वज, अपनी किशोरवस्था की शुरुआत में जार्जिया में गुलाम के तौर पर खेती का काम करती थी जहाँ उन्हें एक अनजान श्वेत आदमी ने गर्भवती बना दिया था.

इसके बाद मेलवीनिया ने वर्ष 1859 के आसपास एक बेटे को जन्म दिया जिसका नाम डोल्फ़्स रखा गया.

आश्चर्य नहीं

मेगन मोलनयेक की इस खोज के बारे में विस्तृत खबर न्यूयॉर्क टाइम्स में भी छपी है. उनके अनुसार वे अपनी इस खोज से बिल्कुल भी चकित नहीं हुईं.

लेकिन उनका कहना था कि ये तथ्य वाकई चकित करता है कि डोल्फ़्स की मौत के पंद्रह साल बाद जन्मा उनका एक वंशज अब अमरीका के व्हाइट हाउस तक पहुँच गया है.

उनके अनुसार मेलवीनिया किन स्थितियों में गर्भवती हुई इसका साफ तौर पर पता नहीं चल पाया है.

लेकिन 1870 में की गई जनगणना में ये पता कि उनके मिश्रित रंगभेद के तीन बच्चे थे. उनमें से एक उनकी गुलामी से मुक्ति के बाद पैदा हुआ था.

उनका कहना था कि अगर आप अफ्रीकी-अमरीकियों पर शोध करे तो आपको आशचर्य नहीं होगा कि इस तरह के अंतरमिश्रण को लोग पंसद नहीं करते है.

इस शोध पर अभी तक व्हाइट हाउस ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है.