'सबसे सताया हुआ आदमी हूँ'

बर्लुस्कोनी
Image caption बर्लुस्कोनी पर कई तरह के मामले चल रहे हैं.

इटली के प्रधानमंत्री सिल्वियों बर्लुस्कोनी ने खुद को दुनिया के इतिहास में सबसे सताया हुआ आदमी कहा है.

साथ ही अपनी तारीफ़ करते हुए ये भी कहा है आज के दौर में वे सबसे अच्छे प्रधानमंत्री है.

पत्रकारों से बातचीत में वे ग़लती से ये भी कह गए कि कोर्ट में केस लड़ने के लिए फीस के तौर पर उन्होंने कई लाखों यूरो वकीलों की बजाय जजों को दिए हैं.

इटली की एक उच्च अदालत ने दो दिन पहले ही एक ऐसे क़ानून को रद्द कर दिया था जिसके तहत प्रधानमंत्री पद पर बैठे व्यक्ति के ख़िलाफ़ कुछ मामलों में मुक़दमा नहीं चलाया जा सकता.

संवावदाताओं का कहना है कि संवैधानिक अदालत की कार्यवाही का मतलब 73 वर्षीय अरबपति प्रधानमंत्री को भ्रष्टाचार और घूस के मामले में कुछ ही महीनों के भीतर कई सुनवाई से गुज़रना पड़ेगा.

हालांकि सिल्वियों बर्लुस्कोनी अपने ऊपर चल रहे सभी मामलो को ग़लत बताते हैं और उनका कहना है कि अदालत में वे खुद का बचाव करेगें और उन पर आरोप लगाने वाले को 'बेनकाब' करेंगे.

रोम में बीबीसी संवावदाता डंकन केनेडी का कहना है कि ये हफ़्ता बर्लुस्कोनी के लिए बहुत ही नाटकीय रहा है जिसका उन्होंने डट कर सामना किया.

पत्रकारों ने उनसे सवाल पूछा की विपक्षी पार्टियों का कहना है कि उन्हें पद से हट जाना चाहिए क्योंकि उनकी निजी और क़ानूनी दिक्कतों से देश की छवि पर असर पड़ रहा है.

इसका जवाब देते हुए उन्होंने कहा की सच्चाई इसके बिल्कुल विपरीत है, मेरी और दूसरे लोगों की राय में मैं आज की तारीख में सबसे अच्छा प्रधानमंत्री हूं.

उनका कहना था, "देश या सरकार को कोई दिक्कत नहीं है बस मुझे ही अदालत में चल रही सुनवाई के लिए अपने काम से थोड़ा समय निकालना होगा."

बर्लुस्कोनी का कहना था कि वे देश में वामपंथियों का विरोध करते है. उन्होंने संवैधानिक अदालत पर पक्षपातपूर्ण रवैया अपनाने का आरोप लगाया और कहा कि जिन जजों ने उनके खिलाफ निर्णय दिए वे निर्वाचक मंडल को उलट देने की कोशिश कर रहे हैं.

संबंधित समाचार