हत्या का अजीबोगरीब मामला

अपना सौवां जन्मदिन मनाती ऐलिज़ाबेथ

अमरीका में मैसाच्यूसेट्स की एक ज्यूरी ने 98 वर्ष की एक महिला पर आरोप लगाया है कि उसने अपनी सौ साल की साथी एलिज़ाबेथ बैरो की गला घोट कर हत्या कर दी.

लॉरा नाम की 98 वर्ष की इस महिला की शिकायत थी कि एलिज़ाबेथ बैरो से मिलने बहुत ज़्यादा लोग आते हैं.

सौ साल की इलिज़ाबेथ बैरो पेशे से नर्सी थीं और दोनों महिलाएँ नर्सिंग होम में एक ही कमरे में रहती थीं.

पुलिस शुरु में मान कर चल रही थी कि एलिज़ाबेथ बैरो ने आत्महत्या की है लेकिन बाद में पुलिस ने लॉरा पर हत्या के आरोप लगाने की बात कही.

इसके बाद जज ने आदेश दिया कि 98 वर्ष की लॉरा को अस्पताल में रखा जाए ताकि ये परखा जा सके कि क्या वे मुकदमे में पेशी देने के लिए फ़िट हैं या नहीं.

कमरे से लगाव

हत्या से पहले दोंनों महिलाएँ एक साल से एक ही कमरे में रह रही थीं. जब एलिज़ाबेथ बैरो की हत्या हई तो उनके सर पर प्लास्टिक का बैग बंधा हुआ था और वे नर्सिंग होम में अपने बिस्तर पर लेटी हुई थीं.

एलिज़ाबैथ बैरो के बेटे स्कॉट बैरो ने बताया, “98 वर्षीय लॉरा ने नर्सिंग होम से शिकायत की थी कि मेरी माँ से मिलने बहुत ज़्यादा लोग आते हैं. उन्होंने मेरी माँ से धमकाने वाले लहज़े में बात की थी.”

स्कॉट बैरो ने कहा भी था कि दोनों महिलाओं को अलग-अलग कमरों में रखा जाए लेकिन उन्हें आश्वासन दिया गया था कि दोनों में अच्छी निभती है.

समाचार एजेंसी एपी के मुताबिक स्कॉट बैरो ने कहा है कि उनकी माँ एलिज़ाबेथ उस कमरे को छोड़ना नहीं चाहती थी क्योंकि उनके पति अपनी मौत से पहले कई वर्षों तक उसी कमरे में थे.

वहीं हत्या का आरोप झेल रहीं लॉरा के वकील का कहना है कि उन्हें लंबे समय से डिमेंशिया है.

वकील ने कहा, “लॉरा के परिवारवालों को बहुत दुख है कि एलिज़ाबेथ बैरो नहीं रहीं. जो कुछ हुआ उसे लेकर वे काफ़ी दुखी हैं. दोनों परिवारवालों के लिए ये दुखद समय है. ये घटना वृद्ध लोगों में मानसिक स्वास्थ्य की समस्याओं को उजागर करती है.”

बीबीसी संवाददाता का कहना है कि अगर 98 साल की लॉरा अदालत में पेश होती हैं तो अमरीका में हत्या का आरोप झेलने वाली वे सबसे बुज़ुर्ग लोगों में शामिल हो जाएँगी.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.