लहूलुहान बर्लुस्कोनी अस्पताल में

बर्लुस्कोनी
Image caption बर्लुस्कोनी के चेहरे पर चोट आई है

इटली के प्रधानमंत्री सिल्वियो बर्लुस्कोनी पर रविवार को हमला हुआ. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक़ मिलान शहर में राजनीतिक रैली के बाद वो प्रशंसकों को ऑटोग्राफ़ दे रहे थे कि एक व्यक्ति ने उन पर गिरजे का छोटा सा नमूना फेंक कर मारा.

इस हमले के बाद 73 वर्षीय बर्लुस्कोनी का चेहरा लहूलुहान हो गया. उनके नाक और चेहरे पर चोट आई है और उनके दो दांत टूट गए. उन्हे दूसरी रात भी मिलान के एक अस्पताल में बितानी पड़ेगी.

प्रत्यक्षदर्शियों की मानें, तो रैली के बाद प्रधानमंत्री बर्लुस्कोनी ऑटोग्राफ़ साइन कर रहे थे, उस समय उन पर हमला हुआ.

एक व्यक्ति ने काफ़ी नज़दीक से उन पर मिलान के गिरजे का छोटा सा नमूना फेंक कर मारा जो उनके चेहरे पर जाकर लगा. इस हमले से चकित नज़र आ रहे बर्लुस्कोनी का चेहरा ख़ून से भर गया.

आरोप

इटली के प्रधानमंत्री को तुरंत उनकी कार में बिठाया गया. इटली की समाचार एजेंसी एनसा का कहना है कि हमला करने के आरोप में 42 वर्षीय मसीमो टार्टेगिला को पकड़ा गया है.

Image caption मसीमो टार्टेगिला को हमले के आरोप में पकड़ा गया है

एनसा के मुताबिक़ ये व्यक्ति मानसिक रूप से बीमार रहा है. उसके ख़िलाफ़ मामला भी दर्ज किया गया है. हालाँकि उसका कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं रहा है.

जिस अस्पताल में प्रधानमंत्री का इलाज हो रहा है उसकी तरफ़ से बताया गया है कि उन्हे दर्दनिवारक और एंटीबायटिक दवाएं दी जा रही हैं.

उनकी नाक को सीधा किया जाएगा और उनके स्टिचिस लगाई गई हैं. लेकिन उन्हे शल्य चिकित्सा की ज़रूरत नहीं पड़ेगी.

बर्लुस्कोनी के डॉक्टर ऐल्बर्तो ज़ंगरीलो का कहना है कि उन्हे पूरी तरह से ठीक होने में कुछ हफ़्ते लगेंगे.

प्रधानमंत्री सिल्वियो बर्लुस्कोनी अपनी निजी ज़िंदगी के चलते सुर्खियों में रहे हैं.

हाल ही में उन पर यौनकर्मियों के साथ संबंध बनाने के आरोप लगे थे. उनकी पत्नी ने भी तलाक की अर्ज़ी दी है. एक हफ़्ते पहले रोम में उनके ख़िलाफ़ भारी रैली हुई थी.

वर्ष 2004 में भी उन पर हमला हुआ था. जब रोम में एक पर्यटक ने उन्हें कैमरा चला कर मारा था. इस हमले में भी उन्हें चोट लगी थी.

संबंधित समाचार