ईरान ने फिर किया मिसाइल परीक्षण

ईरान की मिसाइल
Image caption ईरान ने सितंबर में साज़िल और शाहाब का परिक्षण किया था.

ईरान के सरकारी टीवी चैनल के मुताबिक़ मध्यम दूरी तक मार करने वाली मिसाइल साजिल-दो के उन्नत रूप का सफल परीक्षण किया गया है.

रक्षा विशेषज्ञों का कहना है कि यह मिसाइल इसराइल और खाड़ी देशों में स्थित अमरीकी ठिकानों तक मार करने में सक्षम है.

आलोचना

संवाददाताओं का कहना है कि यह पहला मौक़ा नहीं है कि जब मिसाइल का परीक्षण किया गया है लेकिन जिस समय यह परीक्षण किया गया है उससे ईरान के परमाणु कार्यक्रम पर जारी तनाव और बढ़ेगा.

पश्चिमी देश ईरान पर परमाणु हथियार विकसित करने का आरोप लगाते रहे हैं वहीं ईरान इससे इंकार करता रहा है.

इस परीक्षण के बाद अमरीका ने कहा है कि इससे ईरान के शांतिपूर्ण उद्देश्य का दावा कमज़ोर होता है.

अमरीकी राष्ट्रपति के कार्यालय व्हाइट हाउस के एक प्रवक्ता ने कहा, ''इस तरह की कार्रवाई ने मामले को और गंभीर कर दिया है और ईरान को उसके परमाणु कार्यक्रम के प्रति जवाबदेह बनाने की अंतरराष्ट्रीय समुदाय की इच्छा को बढ़ा दिया है.''

उधर, ब्रितानी प्रधानमंत्री गॉर्डन ब्राउन ने कहा, ''यह अंतरराष्ट्रीय समुदाय के लिए गंभीर चिंता का विषय है और इससे ईरान पर लगे प्रतिबंधों को आगे बढ़ाने की सोच को बल मिलेगा.''

सितंबर में ईरान ने दो हज़ार किलोमीटर तक मार करने वाली 'साजिल' और 'शाहाब' नामक मिसाइलों का परीक्षण किया था. इसके बाद अंतरराष्ट्रीय समुदाय ने उसकी काफ़ी आलोचना की थी.

संबंधित समाचार