संदिग्ध नाइजीरियाई के ख़िलाफ़ आरोप तय

डेल्टा एयरलाइंस का विमान
Image caption इस विमान में 278 यात्री सवार थे

अमरीकी अधिकारियों ने एक नाइजीरिया मूल के व्यक्ति पर यात्री विमान में विस्फोट करके उसे नष्ट करने की कोशिश का आरोप लगाया है.

इस संदिग्ध व्यक्ति का नाम उमर फ़ारुक अब्दुल मुत्तलिब बताया गया है और बताया जा रहा है कि यह यूनिवर्सिटी कॉलेज, लंदन का विद्यार्थी है.

शुक्रवार को एम्सटर्डम से डेट्रॉइट आ रही एक यात्री उड़ान के दौरान एक व्यक्ति ने विमान में विस्फोट और आगजनी की कोशिश की थी.

हालांकि समय रहते उसकी इस कोशिश को नाकाम कर दिया गया और उसे हिरासत में ले लिया गया था.

अधिकारियों का कहना है कि नाइजीरिया मूल का यह व्यक्ति अपने साथ एक विस्फोटक डिवाइस और कुछ अन्य रसायन विमान में ले जाने में सफल रहा था.

अमरीका के डेट्रॉइट अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर उतरने से कुछ मिनट पहले ही इस व्यक्ति ने विमान में विस्फोट करने की कोशिश की जिसे नाकाम कर दिया गया.

सुरक्षा पर चिंता

अधिकारियों ने इस पूरे प्रकरण की जाँच का काम शुरू कर दिया है.

हालांकि इस कोशिश के नाकामयाब होने की सराहना हो रही है पर इस बात को लेकर गंभीर चिंता व्यक्त की गई है कि इस व्यक्ति के साथ विस्फोटक डिवाइस विमान तक कैसे पहुँची.

अमरीका की केंद्रीय जाँच एजेंसी, एफ़बीआई ख़ुद इस पूरे मामले की जाँच कर रही है. शुक्रवार को हिरासत में लिए जाने के बाद से इस व्यक्ति से पूछताछ हो रही है.

विमान में विस्फोट करने की कोशिशों के दौरान इसका एक पैर झुलस गया था. फिलहाल इसे पुलिस की निगरानी में एक अस्पताल में रखा गया है जहाँ इसका उपचार चल रहा है.

उधर लंदन से मिल रही ख़बरों के मुताबिक यूनिवर्सिटी कॉलेज के पास ही एक फ्लैट में सघन तलाशी का काम किया जा रहा है. बताया जा रहा है कि यह संदिग्ध व्यक्ति इस फ़्लैट में रहता था और इस साजिश के कुछ सूत्र यहाँ से भी मिल सकते हैं.

ब्रिटेन के गृह विभाग ने इस पूरे मामले पर गंभीर चिंता व्यक्त की है. फिलहाल इस पूरे प्रकरण की जाँच में ब्रितानी खुफिया अधिकारी अपनी अधिकारियों की मदद कर रहे हैं.

संबंधित समाचार