ग्यारहवीं बार दिया तलाक़

इसराइल में 50 साल के एक व्यक्ति ने 11वीं बार तलाक़ दिया है. वहाँ रबाईयों की एक अदालत के मुताबिक इसराइल में ये अपने आप में रिकॉर्ड है.

इस व्यक्ति ने कोर्ट को बताया कि वो आम तौर पर हर दो साल में अपनी पत्नियों को तलाक़ देता है और तुरंत नई दुल्हन की तलाश में लग जाता है.

उन्होंने कोर्ट को ये भी बताया कि पहली बार तलाक़ लेने का उन्हें मलाल है क्योंकि उसके बाद कभी न ख़त्म होने वाली अगली तलाश की शुरुआत हो गई.

उनकी आख़िरी तलाक़शुदा पूर्व पत्नी का कहना है कि शादी के बाद उनके पूर्व पति ने कभी नौकरी नहीं की और उनकी कमाई पर गुज़र बसर करते थे जिस कारण कर्ज़ का बोझ काफ़ी बढ़ गया था.

नई दुल्हन की तलाश

इससे पहले सबसे ज़्यादा तलाक़ देने का रिकॉर्ड जिस व्यक्ति के नाम था उसने सात बार तलाक़ दिया था.

तलाक़ की घोषणा करते हुए कोर्ट ने कहा, “लगता है कि ये व्यक्ति अपनी पत्नियों को काफ़ी संवेदनशील तरीके से शादी के लिए राज़ी करवाते हैं. लेकिन कुछ समय बाद दोनों पक्ष एक दूसरे से नाराज़ हो जाते हैं और लड़ाई शुरु हो जाती हैं. 50 साल का होने के बावजूद, इनके सर पर सफ़ेद बाल नहीं है. शादी के अपने अनूठे अनुभवों के बावजूद ये फिर से शादी करना चाहते हैं.”

अपनी एक पूर्व शादी से इस व्यक्ति को एक बेटा है लेकिन कोर्ट का कहना है कि पूर्व पत्नी को कोई आर्थिक सहायता नहीं दी गई है.

इस व्यक्ति ने कोर्ट को बताया कि नई दुल्हन ढूँढने में उन्हें कभी कोई दिक्कत नहीं हुई. उन्होंने कहा, “मैं हर दिशा में काँटा फेकता हूँ. मछली अपने आप चली आती है.”

अपने बयान में रबाई ने इस व्यक्ति की प्रशंसा की है कि तलाक़ लेने के लिए उन्होंने सारी धार्मिक मान्यताओं का पालन किया.

यहूदी क़ानूनों के तहत तलाक़ देने से पहले पति को अपनी पत्नी को एक दस्तावेज़ देना होता है जिसमें कहा जाता है कि अब आप दूसरे पुरुषों के साथ जा सकती हैं.

संबंधित समाचार