प्रदर्शनकारियों पर हत्या का मामला दर्ज

पथराव
Image caption श्रीनगर मे पथराव के दौरान इरफ़ान की मौत हुई

भारत प्रशासित कश्मीर में पथराव के दौरान मासूम बच्चे की मौत के लिए पुलिस ने प्रदर्शनकारियों के ख़िलाफ़ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है.

सोमवार को बारामूला ज़िले में हुई इस घटना में 18 दिन के एक बच्चे इरफ़ान अहमद की उस समय मौत हो गई, जब प्रदर्शनकारी यातायात रोकने के लिए वाहनों पर पथराव कर रहे थे.

पुलिस के मुताबिक अपनी जान बचाने के लिए वाहनों से उतर कर भागने वालों में एक महिला भी थी, जिसकी गोद में 18 दिन का बच्चा था.

पुलिस का कहना है कि पथराव के दौरान हड़बड़ी में महिला के हाथ से बच्चा गिर गया जिससे उसकी मौत हो गई.

पुलिस और पथराव कर रहे प्रदर्शनकारियों के बीच झड़पों की वारदात से श्रीनगर सबसे ज़्यादा प्रभावित हुआ, जहां कुछ हिस्सों में अधिकारियों को कम से कम सात दिन का कर्फ़्यू लगाना पड़ा.

प्रदर्शनों के दौरान पुलिस पर अक्सर ये आरोप लगते रहे हैं कि भीड़ पर गोली बारी या आंसू गैस के हमलों मे वो निहत्थे प्रदर्शनकारियों की मौत की ज़िम्मेदार होती है.

लेकिन पथराव की ताज़ा घटना में 18 दिन के बच्चे इरफ़ान अहमद की मौत से इस बार प्रदर्शनकारियों पर इल्ज़ाम आ सकता है.

राज्य के मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने इस सिलसिले में कड़े क़दम उठाने की घोषणा की है.

पुलिस इरफ़ान की मौत के कथित रूप से ज़िम्मेदार प्रदर्शनकारियों की पहचान कर रही है.

संबंधित समाचार