‘टॉपलेस शो’ के बाद फैशन टीवी प्रतिबंधित

फैशन शो

टॉपलैस शो दिखाकर शालीनता की सीमा लांघी

भारत सरकार ने अश्लीलता के आरोप में फैशन टीवी को 10 दिनों के लिए प्रतिबंधित कर दिया है.

अधिकारियों के कहना है कि एक मॉडल को टॉपलेस दिखाकर फैशन टीवी ने केबल टेलीविज़न नेटवर्क के नियम का उल्लंघन किया है.

भारत के सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने एक बयान जारी करके कहा है कि पिछले साल सितंबर में चैनल ने एक शो में ‘महिला मॉडलों के ऊपरी हिस्से को बिना वस्त्र के दिखाया जो कि शालीनता और सुरुचि का उल्लंघन था’.

फैशन टीवी पर दिखाए गए दृश्य अश्लील, अपमान जनक, और बच्चों के देखने योग्य नहीं थे और न ही वे सार्वजनिक प्रदर्शन के क़ाबिल पाए गए

वक्तव्य, भारतीय सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय

शुक्रवार को स्थानीय समय के मुताबिक शाम सात बजे से ये प्रतिबंध लागू कर दिया गया है.

मंत्रालय के बयान में कहा गया है, “फैशन टीवी पर दिखाए गए दृश्य अश्लील, अपमानजनक, और बच्चों के देखने योग्य नहीं थे और न ही वे सार्वजनिक प्रदर्शन के क़ाबिल पाए गए.”

इससे पहले भी सन 2007 में फैशन टीवी को दो महीने के लिए प्रतिबंधित किया गया था. उस समय ‘मिडनाइट हॉट शो’ के दौरान महिला मॉडलों को नाम मात्र के कपड़े पहने दिखाया गया था.

लेकिन उसके एक महीने बाद ये प्रतिबंध उस समय हटा लिया गया था जब फैशन टीवी ने माफी मांगी और भविष्य में इस तरह के प्रसारण न करने का वचन दिया था.

केबल टेलीविज़न नेटवर्क के नियम क़ानूनों के मुताबिक़ महिलाओं को अश्लील रूप में दिखाना वर्जित है.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.