'लावारिस' गुरिंदर की वतन वापसी

गुरिंदरजीत सिंह
Image caption दो वर्ष पहले गुरिंदरजीत लंदन के साउथ हॉल में लावारिस पाया गया था.

दो वर्ष पहले लंदन में लावारिस छोड़ दिए जाने वाला भारतीय बच्चा गुरिंदरजीत सिंह अब अपने घर लौट सकता है क्योंकि अधिकरियों ने उसे अस्थाई यातायात दस्तावेज़ जारी कर दिए हैं.

बारह वर्षीय गुरिंदरजीत लंदन के साउथहॉल स्थित बस स्टॉप पर लावारिस पाया गया था.

माना जाता है कि गुरिंदर के माता-पिता ने यूरोप में अवैध अप्रवासन के बाद उसे बेसहारा छोड़ दिया था. फ़िलहाल उसके माता-पिता के बारे में पुख़्ता जानाकरी नहीं है.

गुरिंदर की भारत वापसी की मंज़ूरी लंबी का़नूनी लड़ाई लड़ने के बाद मुमकिन हो सकी है.

इस मामले में पश्चिमी लंदन के बरो ऑफ़ इलिंग यानी सरकारी प्रशासनिक केंद ने अप्रत्यशित क़दम उठाते हुए पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट में अर्ज़ी दायर की थी.

क़ानूनी लडा़ई के बाद

बुधवार को ब्रिटेन के विदेश मंत्रालय ने गुरिंदरजीत को आपातकाल यातायात दस्तावेज़ जारी किया है.

इलींग के वकील अनिल मलहोत्रा ने बीबीसी को बताया, "गुरिंदरजीत सिंह की भारत वापसी के अधिकार के मुक़दमे को जीतना एक बड़ी चुनौती थी."

गुरिंदर फ़िलहाल ब्रिटेन में है. उन्हें यातायात दस्तावेज़ इसलिए नहीं दिए जा रहे थे क्योंकि लंदन में भारतीय उच्चायुक्त में उसके माता-पिता की तरफ़ से कोई दस्तावेज़ नहीं हैं.

अनिल मलहोत्रा के अनुसार, "गुरिंदर के पिता मोहिंदर सिंह इटली में रह रहे हैं जबकि मां दपिंदर कौर कथित तौर पर लंदन में थी. लेकिन बच्चे को लावारिस छोड़ने के बाद कभी संपर्क नहीं किया."

इलींग की याचिका पर हाई कोर्ट ने माना कि गुरिंदर को पासपोर्ट नहीं देना संविधान की अवहेलना है, क्योंकि भारत का संविधान प्रत्येक नागरिक को जीने और स्वतंत्रा का अधिकार देता है.

गुरिंदर को लेकर पंजाब के होशियारपुर में मुक़दमा चल चल रहा था.

पंजाब में बीबीसी संवाददाता का कहना है कि अदालत के हस्तक्षेप के बाद ऐसा लगता है कि भारतीय अधिकारियों ने यातायात दस्तावेज़ जारी किए हैं. लेकिन इस बात की शर्त रखी है कि गुरिंदर की सुरक्षा और उसके अभिभावक को सौंपने की ज़िम्मेदारी बरो ऑफ़ इलींग की होगी.

संभावना है कि 21 अप्रैल को गुरिंदरजीत सिंह अपने 12वें जन्मदिन के मौक़े पर एक ब्रितानी समाजिक कार्यकर्ता की देखरेख में भारत आएगा.

माना जा रहा है कि गुरिंदरजीत को पंजाब के शहर होशियारपुर में उसके रिश्तेदार कुलदीप सिंह के हवाले किया जाएगा.

संबंधित समाचार