कूटनयिक निष्कासित, इसराइल 'निराश'

दुबई में फ़लस्तीनी नेता की हत्या के मामले में इसराइली कूटनीतिज्ञ को निष्कासित करने के ब्रिटेन के फ़ैसले पर इसराइल ने अपनी निराशा जताई है.

ब्रिटेन में इसराइल के राजदूत रॉन प्रोसोर ने कहा है कि ब्रिटेन के फ़ैसले से इसराइल निराश हुआ है.

ब्रिटेन ने फ़ैसला किया है कि हमास नेता महमूद अल मबहूह हत्यकांड में 12 फ़र्ज़ी ब्रितानी पासपोर्टों के इस्तेमाल को लेकर वे एक इसराइली कूटनयिक को निष्कासित कर रहा है.

हमास नेता की जनवरी में दुबई में हत्या कर दी गई थी.

ब्रिटेन के विदेश मंत्री डेविड मिलिबैंड ने हाउस ऑफ़ कॉमन्स में कहा कि ब्रिटेन के पास ये मानने की पुख़्ता वजह है कि पासपोर्ट के दुरुपयोग के लिए इसराइल दोषी है.

उन्होंने कहा, "सरकार इस मामले को बहुत ही गंभीरता से लेती है. ब्रितानी पापपोर्टों का इस तरह ग़लत इस्तेमाल सहा नहीं जाएगा."

वहीं इसराइली राजदूत ने कहा है कि इसराइल और ब्रिटेन का आपसी रिश्ता बहुत अहम है और इसराइल को फ़ैसले से निराशा हुई है.

ब्रिटेन नाराज़

इसराइल का कहना है कि इस बात का कोई सबूत नहीं है कि दुबई के होटल में हमास नेता की हत्या के पीछे उसका हाथ है.

लेकिन ब्रितानी विदेश मंत्री ने कहा है कि इस बात के आसार बहुत ज़्यादा हैं कि इसराइल की ख़ुफ़िया एजेंसी मोसाद मामले से जुड़ी हुई है.

उन्होंने कहा कि इसराइल करीबी दोस्त है जिस वजह से ब्रिटेन को और भी दुख हुआ है.

डेविड मिलिबैंड ने कहा, मेरे पास सबूत है कि जाँच के लिए सौंपे जाने के बाद ब्रितानी नागरिकों के पासपोर्ट को कॉपी किया गया है और जाँच करने वाले लोग इसराइल से जुड़े हुए थे.

एक अधिकारी ने पुष्टि करते हुए कहा है कि इसराइली अधिकारी के निष्कासन के बाद इसराइल ऐसा कोई क़दम नहीं उठाएगा.

मध्य पूर्व मामलों के संपादक जेरेमी बोवेन का कहना है कि निष्कासन के फ़ैसले से ब्रिटेन की नाराज़गी का स्पष्ट संकेत गया है. उनका कहना है कि अपने सहयोगी देश के कूटनयिक को निकालना ब्रिटेन जैसे देश के लिए बड़ी बात है.

फ़लस्तीनी नेता मबहूह हमास की सैन्य शाखा के प्रमुख थे.मबहूह की मौत के बाद उनके परिवारवालों ने कहा कि मबहूह की मौत बिजली के झटके से हुई है. साथ ही मबहूह का गला भी घोंटा गया था.

संबंधित समाचार