चरमपंथी की विधवा पर संदेह

संदिग्ध हमलावर
Image caption रूसी अख़बार ने संदिग्ध हमलावर की तस्वीर छापी है

पिछले दिनों मॉस्को मेट्रो में हुए धमाके के लिए एक चरमपंथी की 17 वर्षीय विधवा को संदिग्ध आत्मघाती हमलावर माना जा रहा है.

अधिकारियों के मुताबिक़ उत्तरी कॉकेशस का एक चरमपंथी उमालत मगोमेदोव पिछले साल सुरक्षाबलों के हाथों मारा गया था.

अब पुलिस उनकी विधवा 17 वर्षीय अब्दुरखमानोवा को उन दो महिला आत्मघाती हमलावरों में से एक होने का संदेह जता रही है, जिन्होंने सोमवार को मेट्रो में धमाका किया था.

हालाँकि पुलिस अधिकारी अभी पक्के तौर पर ये कहने की स्थिति में नहीं हैं अब्दुरखमानोवा ही आत्मघाती हमलावर थीं.

दक्षिणी रूस की पुलिस ने बीबीसी से इस बात की पुष्टि की है कि उन्होंने मॉस्को की पुलिस को दागेस्तान की अब्दुरखमानोवा के बारे में जानकारी दी है.

धमाका

मॉस्को मेट्रो में हुए धमाके में 39 लोग मारे गए थे और 70 से ज़्यादा घायल हुए थे. कई घायल अब भी अस्पताल में भर्ती हैं.

दागेस्तान का इलाक़ा चेचन्या से नज़दीक है और यहाँ सुरक्षाकर्मी चरमपंथी हिंसा से निपटने की कोशिश में हैं.

मॉस्को से बीबीसी संवाददाता रिचर्ड गैल्पिन का कहना है कि एक रूसी अख़बार में संदिग्ध हमलावर और उनके पति की जो तस्वीर छपी है, वो महिला आत्मघाती हमलावरों में से एक से काफ़ी मिलती-जुलती है.

रूसी ख़ुफ़िया एजेंसी एफ़एसबी के एक अनाम अधिकारी ने बताया है कि मगोमेदोव चेचन्या के बाग़ी नेता डोकू उमारोव के सहयोगी थे.

उमारोव ने एक वीडियो संदेश में दावा किया था कि उन्होंने ही मेट्रो में धमाके का आदेश दिया था. इस संदेश में उन्होंने रूस को और हमलों की चेतावनी भी दी थी.

संबंधित समाचार